Posts

Showing posts from July, 2019

KANGRA EXPRESS

Image
काँगड़ा वैली एक्सप्रेस से एक सफ़र 


अभी हाल ही में दिनांक 6 फरवरी से काँगड़ा वैली रूट पर एक एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन किया गया है। यह काफी लम्बा समय था जब इस 164 किमी लम्बे रूट पर कोई एक्सप्रेस ट्रेन चली है। हालाँकि यह अभी पठानकोट से बैजनाथ पपरोला तक ही अपनी सेवा देती है। परन्तु इस 141 किमी लम्बी यात्रा को एक एक्सप्रेस ट्रेन द्वारा पूरा करना कम रोमांचकारी नहीं है। पठानकोट से चलने के बाद इसका अगला स्टॉप ज्वालामुखी रोड स्टेशन पर है। इस बीच में अनेकों छोटे छोटे स्टेशन आते हैं और जब यह ट्रेन उन स्टेशन पर बिना रुके गुजरती है तो उसके आनंद का एहसास केवल उसे ही हो सकता है जिसने इस ट्रेन में बैठकर यात्रा की हो। 

KUMUD VAN

Image
कदर वन या कुमुद वन 
यूँ तो ब्रज का एक एक भाग भगवान श्री कृष्ण की लीलाओं से परिपूर्ण है किन्तु ब्रज में कुछ ऐसे भी स्थान हैं जहाँ भगवान श्रीकृष्ण ने ऐसी दिव्य लीलाएँ की हैं जिनसे वह स्थान ब्रज के मुख्य धाम कहलाते हैं, इनमें से ही एक हैं ब्रज के द्वादश वन अर्थात बारह वन।  ब्रज के बारह वन निम्न प्रकार हैं -

मधुवन   तालवन कुमुदवन बहुलावन काम्यवन खदिर वन वृन्दावन भद्रवन भांडीर वन बेलवन लोहवन महावन  इन सभी वनों में भगवान श्रीकृष्ण ने अलग अलग दिव्य लीलाएँ की हैं। बहुलावन की यात्रा मैं पहले ही कर चुका  था इसलिए अब मुझे तलाश थी कुमुदवन की। मैंने सुन रखा था कि कुमुदवन मथुरा से सौंख जाने वाले रास्ते पर कहीं है, मैं कई बार कुमुदवन की तलाश में वहां गया भी, मगर बड़े ही आश्चर्य की बात है भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं से जुड़े इस स्थान के बारे में ब्रजवासियों को ही नहीं पता था कि उनके आसपास कोई कुमुदवन नाम का स्थान भी है। मैंने कई बार गूगल मैप में इसे खोजने की कोशिश की, परन्तु वहां भी कुमुदवन का कोई जिक्र नहीं था परन्तु मेरा मन नहीं माना, मुझे जितनी असफलताएँ मिलती जा रही थी, उतना ही मेरा कुमुदवन को खोजने वि…